पर्यटन राजकाज

माघ मेले को पर्यटन मेले मे संवारने वाले युवा डी एम की सर्वत्र सराहना

माघ मेले को पर्यटन मेले की शक्ल देने के लिए विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने डीएम उत्तरकाशी डॉक्टर आशीष कुमार चौहान को दी शुभकामनाएं । माघ मेले मैं बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे स्पीकर।

गिरीश गैरोला

डीएम उत्तरकाशी आशीष चौहान की तारीफ करते हुए उत्तरकाशी माघ मेले मे उनके प्रयासों को और गति देने के लिए मुख्यमंत्री से बात करने का दिया भरोसा।

माघ मेला उत्तरकाशी 2018 में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने पौराणिक माघ मेले को पर्यटन मेले की शक्ल देने की के लिए उत्तरकाशी डीएम डॉक्टर आशीष चौहान की जमकर तारीफ की और पर्यटन विभाग को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि  पर्यटन विभाग को इससे सीख लेने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि डीएम उत्तरकाशी बेहतर काम कर रहे हैं। इसके लिए वह सुबे के मुख्यमंत्री से बात कर धार्मिक पर्यटन के साथ साहसिक पर्यटन के क्षेत्र में बढ़ावा देने की डीएम की पहल पर चर्चा करेंगे ।

गौरतलब है तिब्बत से भारत की व्यापारिक संबंध को लेकर शुरू हुआ माघ मेला बड़ाहॉट का थौलु एक जमाने में स्थानीय उपलब्ध उत्पाद की तिब्बत के व्यापारियों की अदला-बदली को लेकर शुरू हुआ था।  उस वक्त दोनों देशों  की जरूरत एक दूसरे से मेले के माध्यम से पूरी होती थी।  किंतु बदलते दौर में माघ मेला व्यापार से जिला पंचायत की कमाई का एक जरिया बनकर रह गया है ।

राज्य और बाहर से आए गए व्यापारी महंगी दरों पर कालाबाजारी से जिला पंचायत के ठेकेदार से दुकान किराए पर लेते हैं ।जिसका खामियाजा इलाके की गरीब जनता को  महंगी दर और घटिया सामान को लेकर चुकाना पड़ता है । डीएम उत्तरकाशी के प्रयासों से माघ मेले को नई परिभाषा मिली है। जिसके तहत जोशियाड़ा  झील में नौकायन , वाटर स्कूटर,  राफ्टिंग,  कयाकिंग-केनोइंग और सलालम प्रतियोगिताएं चल रही हैं।  पर्यटन के लिहाज से खाली पड़ी जल विद्युत परियोजनाओं की झील पर डीएम के इस प्रयास में पर्यटन व्यवसायियों के चेहरे पर रौनक के साथ आने वाले सुखद भविष्य की उम्मीदें जगा दी हैं। विधानसभा स्पीकर द्वारा डीएम के इस प्रयास की सराहना इसका ताजा उदाहरण है।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: