एक्सक्लूसिव राजकाज

सरकार को पड़ा विदेश ‘दौरा’

देहरादून। कर्ज में डूबे उत्तराखंड की आर्थिक स्थिति की चिंता किए बगैर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत जल्द ही विदेश दौरे पर रवाना होंगे। बताया जा रहा है कि अप्रैल के दूसरे पखवाड़े में उन्हें थाइलैंड जाना है। इसके बाद 10 मई को उनका अमेरिका टूर भी प्रस्तावित है। एक वर्ष के कार्यकाल के दौरान सीएम त्रिवेन्द्र से पहले उनके मंत्रिमण्डल के चार सदस्य विदेश का दौरा कर चुके हैं।

थाइलैंड में 15 से 20 अप्रैल के बीच इन्वेस्टर्स मीट का आयोजन किया जा रहा है। इस मीट में कई देशों के इन्वेस्टर प्रतिभाग करेंगे। मीट में फूड प्रोसेसिंग बिजनेस पर गहन चर्चा होने के साथ ही पर्यटन को कैसे बढ़ावा दिया जा सकता है, पर भी विचार-विमर्श किया जायेगा। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का अपने कार्यकाल में यह पहला विदेश दौर है। इसके बाद 10 मई को उनका अमेरिका दौरे पर जाना भी प्रस्तावित है। उत्तराखण्ड में राज्य सरकार के मंत्रियों का विदेश दौरा अक्सर चर्चा का विषय बना रहता है। हर बार विपक्ष कहता है कि लगभग 45 हजार करोड़ के कर्ज तले दबे उत्तराखण्ड के मंत्रियों को बेवजह विदेश दौरों पर धन व्यय नहीं करना चाहिये। लेकिन, वही विपक्षी दल जब सत्ता में आते हैं, तो उनकी सरकार के मंत्री भी विदेश दौरों के अवसरों को भुनाने में कोई कसर नहीं छोड़ते। भाजपा को ही देख लीजिए। उत्तराखण्ड में कांग्रेस सरकार के समय भाजपा जब विपक्ष में थी, तो मंत्रियों के विदेश दौरों को लेकर भाजपाई खूब बवाल काटते थे। अब जब भाजपाई सत्ता में हैं, तो अपने तर्कों को भूलकर वही कर रहे हैं जिसके लिए जनता ने पिछली सरकार को सत्ता से बेदखल किया था। त्रिवेन्द्र सरकार का अब तक एक वर्ष का कार्यकाल पूरा हुआ है। इस अवधि में सीएम समेत 10 मंत्रियों वाली सरकार के चार मंत्री विदेश घूम आए हैं। इनके अलावा मौजूदा विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल भी विदेश का दौरा कर चुके हैं।

वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने की फॉरेन टूर की शुरुआत

त्रिवेन्द्र सरकार के मंत्रियों के विदेश दौरों की शुरुआत वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने की। वे स्किल डेवलपमेंट कार्यक्रम में हिस्सा लेने फ्रांस गए थे। इसके बाद पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज औली को विकसित करने का सपना लेकर फ्रांस का दौरा कर आए। फिर वन मंत्री हरक सिंह रावत भूस्खलन को नियंत्रित करने के तरीके सीखने के लिए जापान गए। इस सिलसेले को जारी रखते हुये बीते सितम्बर में कृषि मंत्री सुबोध उनियाल फूड प्रोसेसिंग से जुड़ी तकनीक समझने के लिए अमेरिका का टूर कर आये। उसके बाद सुबोध उनियाल ने फिर फरवरी माह में तीन विधायकों के साथ इटली और जापान का दौरा किया। दिलचस्प बात यह है कि उनियाल के साथ इस टूर में भाजपा के विधायक मुन्ना सिंह चौहान के साथ विपक्ष के भी दो विधायक काजी निजामुद्दीन और प्रीतम पंवार मौजूद थे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: