एक्सक्लूसिव पहाड़ों की हकीकत

भालू के हमले में घायल युवती

भटवाड़ी ब्लॉक किए बयाना गांव में भालू के हमले से एक युवती घायल हो गई जिसे 108 एंबुलेंस की मदद से जिला अस्पताल भेजा गया, जहां उसका उपचार चल रहा है। वन विभाग के कर्मचारी मौके पर हैं ।
गिरीश गैरोला
शुक्रवार सुबह जैसे ही गांव की महिलाओं के साथ शर्मिला घास के लिए जंगल से निकली गांव की सीमा के पास ही एक भालू ने उस पर हमला कर उसके पैर को बुरी तरह जख्मी कर दिया। शर्मिला ने हिम्मत नहीं हारी और जोर जोर से शोर करना शुरू किया। शर्मिला के साथ गई अन्य महिलाओं ने भी शोर मचाया तो भालू जंगल में भाग गया ।स्थानीय लोगों की मदद से महिला को 108 एंबुलेंस से जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां उसका इलाज चल रहा है । वन विभाग के कर्मचारी मौके पर हौ।  प्रभागीय वनाधिकारी उत्तरकाशी संदीप कुमार ने बताया यह मामला मुखेम रेंज का है ।  उन्होंने अप्रैल के इस महीने में भालू के अटैक पर आश्चर्य व्यक्त किया उन्होंने कहा कि साधारणतया अक्टूबर नवंबर से दिसंबर तक का समय प्रजनन काल के चलते अक्सर भालू इंसानों पर हमला करते हैं और तापमान बढ़ते ही ऊपरी इलाकों में चले जाते हैं ।
डीएफओ संदीप कुमार ने बताया भालू के हमले में घायल महिला को ₹5000 की तात्कालिक सहायता राशि दी गई है।
 उन्होंने बताया कि जंगली जानवरों से हमले में सामान्य घायल होने पर ₹15000 गंभीर घायल होने पर ₹50000 आंशिक अपंग होने पर ₹एक लाख  पूर्ण अपंग होने पर (40% से अधिक अपंगता पर ) ₹2 लाख और जंगली जानवर से हमले के बाद मौत होने पर ₹3 लाख का मुआवजा वन विभाग द्वारा दिया जाता है , जिसका 30% भुगतान अग्रिम रुप से कर दिया जाता है जबकि बकाया भुगतान डॉक्टर की रिपोर्ट के आधार पर किया जाता है।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: