Uncategorized

डा. निशंक की किताब के भोजपुरी अनुवाद का विमोचन

आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने डॉ रमेश पोखरियाल निशंक की पुस्तक ” केदारनाथ की सच्ची कहानियों ” के भोजपुरी अनुवाद का विमोचन लखनऊ में किया ।
इस अवसर पर संसदीय लोकसभा समिति के सदस्य श्री प्रह्लाद पटेल, श्री राजेंद्र अग्रवाल एवं उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री मौजूद रहे ।
अपने उद्बोधन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि यह हमारे लिए सौभाग्य की बात है कि डॉ निशंक ने केदारनाथ की घटनाओं का सजीव चित्रण भोजपुरी में लोगों तक पहुंचाया है । उन्होंने कहा कि उन्हें इस बात की खुशी है कि जहां एक और उनकी जन्म भूमि उत्तराखंड में है तो दूसरी ओर उनकी कर्मभूमि की भाषा भोजपुरी है ।
डॉ निशंक को उनकी साहित्यिक उपलब्धियों के लिए “साहित्य गौरव सम्मान” से सम्मानित किया गया । सम्मान पत्र में डॉ निशंक के विदेश में भारतीय प्रतिष्ठा को साहित्य के माध्यम से ऊंचा करने एवं भारतीय संस्कृति के प्रचार प्रसार और उसके संवर्धन के लिए विश्वव्यापी मुहिम चलाने के लिए मुक्ति मिशन वाराणसी फाउंडेशन द्वारा यह पुरस्कार प्रदान किया गया ।

पुरस्कार प्रदान करते हुए मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि डॉ निशंक पर मां सरस्वती की विशेष कृपा है और वे अपने व्यस्त राजनीतिक कार्यक्रम से साहित्य के लिए समय निकालते हैं । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने यह भी कहा कि डॉ निशंक मां भारती की सेवा में तत्पर हैं ।
इस अवसर पर अखिल भारतीय भोजपुरी समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री प्रभु नाथ राय अपने सहयोगियों के साथ उपस्थित थे । भोजपुरी समाज की ओर से उन्होंने डॉ निशंक को महत्वपूर्ण कार्य के लिए बधाई दी ।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: