एक्सक्लूसिव

सबसे बड़ी कार्यवाही IAS का बड़ा एक्शन

मामचंद शाह

परिवहन आयुक्त डी सेंथिल पांडियन के निर्देश पर आज 16 अप्रैल को मुख्यमंत्री कार्यालय के साथ ही शासन और पुलिस महानिदेशक कार्यालय को कड़े  आदेश जारी किए गए हैं।परिवहन विभाग ने शासन के अधिकारियों और पुलिस विभाग के अफसरों की गाड़ियों पर लगी नेम प्लेट और सुरक्षा गार्ड को अवैध बताते हुए नोटिस जारी किया है।

 

 सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी के हस्ताक्षरों से जारी नोटिस में कहा गया है कि केंद्रीय मोटर यान नियमावली 1989 एवं मोटर यान अधिनियम 198 के प्राविधानों के अनुसार वाहन में पंजीयन नंबर प्लेट के अतिरिक्त कुछ भी अंकित नहीं किया जा सकता है।
 शासनादेशों के अनुसार केवल सरकारी वाहनों में ही विभाग का नाम पदनाम पट्टिका लगाया जाना अनुमन्य है। परिवहन विभाग ने शासन और पुलिस सहित 2 दर्जन से अधिक रसूखदार वाहन स्वामियों को कड़े नोटिस जारी किए हैं। संभागीय परिवहन अधिकारी ने बाकायदा वाहनों की फोटो संलग्न करते हुए उन्हें निर्देश दिए हैं कि तत्काल नेम प्लेट अथवा सुरक्षा गार्ड हटा दिए जाएं वरना चेकिंग के दौरान वाहनों पर यह सब पाए जाने पर नियमानुसार प्रवर्तन कार्यवाही की जाएगी।
 संभागीय परिवहन अधिकारी ने बताया कि नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहनों की चेकिंग के लिए अरविंद कुमार पांडे सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी देहरादून के नेतृत्व में डॉक्टर संगीता भट्ट (परिवहन कर अधिकारी- प्रथम) एवं  दीपक कुमार शर्मा( मुख्य प्रशासनिक अधिकारी) की दो प्रवर्तन टीमें गठित कर 16 अप्रैल 2018 को शहर में चेकिंग अभियान चलाया गया।
 अभियान के तहत 20 वाहनों के चालान किए गए मौके पर वाहनों से अनाधिकृत सुरक्षागार्ड पदनाम पट्टिका हटाई गई हैं इसके अतिरिक्त शासन व अन्य विभागों को भी वाहनों में लगे अनाधिकृत सुरक्षा गार्ड हटाए जाने हेतु अनुरोध किया गया है। इसके अतिरिक्त वाहनों में अनाधिकृत नंबर प्लेट पद नाम पट्टिका एवं सुरक्षा गार्ड को हटाए जाने के लिए 12 वाहन स्वामियों को नोटिस भी जारी किए गए हैं।
 परिवहन विभाग की इस कार्यवाही से IAS सेंथिल पांडियन फिर से चर्चाओं में आ गए हैं। देखना यह है कि अब इस विभाग से उनका तबादला कब तक होता है !
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: