धर्म - संस्कृति

आर्य समाज शमशेरगढ़ ने धूमधाम से मनाया स्वर्ण जयंती वार्षिकोत्सव

 स्वर्ण जयंती वार्षिकोत्सव समारोह 2017 की स्मारिका का विमोचन

देहरादून। आर्य समाज शमशेरगढ़ का तीन दिवसीय स्वर्ण जयन्ती वार्षिकोत्सव 2017 सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। इस समापन अवसर पर कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को शामिल होना था, लेकिन स्वास्थ्य खराब होने के कारण उनके प्रतिनिधि के तौर पर भाजपा के प्रदेश मंत्री सुनील उनियाल गामा बतौर मुख्य अतिथि सम्मिलित हुए।
आर्य समाज शमशेरगढ़ के मंत्री सुभाष आर्य ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि रविवार को सर्वप्रथम यज्ञ आचार्य संजय याज्ञिक ने यज्ञ की महिमा बताई। इस दौरान पं. कल्याण देव वेदी द्वारा महर्षि दयानन्द के जीवन चरित्र को बताने वाले भजन प्रस्तुत किए। इस मौके पर आचार्य संजय द्वारा वेदों की महिमा का विस्तार से वर्णन किया गया। इसके साथ ही महर्षि दयानन्द सरस्वती के जीवन चरित्र पर भी प्रकाश डाला गया।
आर्य ने बताया कि डीएवी पीजी कालेज की प्रो. डा. सुखदा सोलंकी ने प्रवचन के माध्यम से आर्य समाज के गूढ़ रहस्यों को समझाया। पीयूष शास्त्री ने उपदेश, उमेश विशारद व मीनाक्षी पंवार ने भजनों की प्रस्तुति से कार्यक्रम में शमां बांध दी।
इस अवसर पर गणमान्य व्यक्तियों व आर्य समाज शमशेरगढ़ के पदाधिकारियों की मौजूदगी में स्वर्ण जयंती वार्षिकोत्सव समारोह 2017 की स्मारिका का विमोचन भी किया गया। इस मौके पर सीएम के प्रतिनिधि सुनील उनियाल गामा ने कहा कि आर्य समाज शमशेरगढ़ बेहतरीन कार्य कर रहा है। समाज की जो भी समस्याएं होंगी, उन्हें पूरा करने का प्रयास करेंगे।
सुभाष आर्य ने कहा कि इस दौरान कु. देविका व सुखपाल सिंह के भजनों की प्रस्तुतियां सुनकर सभी उपस्थित लोग मंत्रमुग्ध हो गए। कार्यक्रम में इस आर्य समाज के अब तक रहे सभी १७ प्रधानों एवं उनके परिजनों को भी स्मृति चिन्ह, शॉल एवं पटका ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा उम्मेद सिंह विशारद, प्रकाश चन्द्र, इ. प्रेम प्रकाश शर्मा एवं इ. दिनेश चन्द्र को भी उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन मंत्री सुभाष आर्य द्वारा किया गया।
कार्यक्रम में प्रधान विशम्भर दयाल, कोषाध्यक्ष जगमोहन सिंह, उप प्रधान कल्याण सिंह व सुखपाल सिंह उपमंत्री महिपाल सिंह व अमर सिंह, भगत सिंह, विजय सिंह, मोहन लाल, सतीश कुमार, वीरेन्द्र वर्मा, आशारामी, नरेश, गजेन्द्र, बादल कुमार, सिकंदर कुमार, नितीश, सुशोभित, मोहित, दिव्यांशु, कुलदीप, प्रज्जवल एवं मनोज आदि का भी कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा। कार्यक्रम संपन्न होने के बाद ऋषि लंगर के साथ वार्षिकोत्सव समाप्त हुआ।
इस अवसर पर क्षेत्र की जिला पंचायत सदस्य हेमा पुरोहित, ग्राम प्रधान शबनम थापा सहित क्षेत्र के सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

नई कार्यकारिणी गठित, प्रधान बने शत्रुघ्न मौर्य

समारोह के उपरांत आर्य समाज मन्दिर शमशेरगढ़ में आर्य उप प्रतिनिधि सभा देहरादून की साधारण सभा की बैठक आयोजित की गई, जिसमें गत वर्ष की कार्यकारिणी भंग कर नई कार्यकारिणी का गठन कर दिया गया। नई कार्यकारिणी में प्रधान शत्रुघ्न मौर्य, मंत्री महेन्द्र पाल चौहान, कोषाध्यक्ष यशवीर सिंह, संरक्षक इ. प्रेम प्रकाश चुने गए। कार्यक्रम की अध्यक्षता शत्रुघ्न मौर्य द्वारा की गई।

Parvatjan Android App

Video

Muslim Beaten for Celebrating Independence Day

Get Email: Subscribe Parvatjan

%d bloggers like this: