राजनीति

महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री से बड़े इंद्रमणि बडोनी!

कल 2 अक्टूबर को देशभर में गांधी जयंती के साथ-साथ लाल बहादुर शास्त्री की जयंती भी जोर-शोर से मनाई गई। पूरे देश में अलग-अलग ध्रुवों में यह दिवस मनाया गया। सोशल मीडिया का बड़ा वर्ग महात्मा गांधी को गरियाता रहा तो वहीं दूसरी ओर जय जवान-जय किसान वाले पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को भारत भाग्य विधाता बताया गया।
लंबे समय से महात्मा गांधी की आलोचना तेजी से होने लगी है तो उत्तराखंड में यह दिवस अलग-अलग परिपेक्ष्य में मनाया जाता रहा। उत्तराखंड की सरकार ने उत्तराखंड राज्य प्राप्ति आंदोलन के शहीदों को श्रद्धांजलि देने से लेकर गांधी-शास्त्री तक सभी को याद किया। अलग-अलग संगठनों ने अपने-अपने अनुसार यह दिवस मनाया, किंतु अब खंड-बंड हो चुके उत्तराखंड क्रांति दल ने अलग अंदाज में 2 अक्टूबर मनाया।
मुजफ्फरनगर कांड की बरसी पर मनाए गए इस दिवस पर उत्तराखंड क्रांति दल के लोगों ने महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री के ऊपर इंद्रमणि बडोनी की फोटो रखकर यह साबित करने की कोशिश की कि क्षेत्रीय दल के लिए तो असली गांधी-शास्त्री गांधी इंद्रमणि बडोनी ही थे।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: