एक्सक्लूसिव

एक्सक्लूसिव : अमर उजाला के पत्रकार पर धोखाधड़ी मे मुकदमा दर्ज

विदेशी फंड गबन में आठ पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

कपकोट। पुलिस ने विदेशी फंड में हेरफेर मामले में कपकोट की एक स्वयं सेवी संस्था ग्रामीण उत्थान समिति के संचालक सहित आठ के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस ने धारा 420 के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। कपकोट पुलिस ने बताया कि लोटस फ्लावर ट्रस्ट दिल्ली की ओर से अशोक कुमार त्रिपाठी ने अमर उजाला के पत्रकार  गणेश उपाध्याय, ग्रामीण उत्थान समिति कपकोट के संचालक( दैनिक जागरण का पूर्व पत्रकार) उमेश जोशी, सहित त्रिलोक सिंह कपकोटी, सीएस कपकोटी, केएम बसंती, चंद्र राम, तारा दानू, एसएम जोशी, जनार्दन जोशी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला पंजीकृत किया है।

आरोप लगाया कि वर्ष 2009 में ट्रस्ट ने कपकोट में असहाय व निर्धन छात्राओं के लिए आवासीय विद्यालय निर्माण के लिए एक करोड़ 90 लाख की रकम ग्रामीण उत्थान समिति को दी थी। लेकिन संस्था ने आवंटित राशि का सही उपयोग नहीं किया। कपकोट की 100 असहाय बालिकाओं के लिए आवास बनाने के लिए संस्था को लगभग 1 करोड़ 90 लाख की राशि आवंटित की गई। कई बार अनुरोध के बाद भी संस्था ने आय व्यय का सही हिसाब नहीं दिया साथ ही धरातल पर कोई कार्य भी नही किया।

ट्रस्ट ने संचालक सहित सभी सदस्यों पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। कपकोट पुलिस ने धारा 420 व 403 के तहत मामला पंजीकृत कर जांच शुरू कर दी है। इधर कपकोट पुलिस ने बताया कि मामले की जांच के उपरांत जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी की जाएगी।

सोसाइटी के पास विदेश से फण्ड लेने के जरूरी दस्तावेज भी समिति पंजीकरण दफ्तर में जमा नहीं किये हैं।

अमर उजाला के पत्रकार गणेश उपाध्याय ने पर्वतजन को बताया,-” मैंने ग्रामीण उत्थान समिति कपकोट से 4 मार्च 2010 को ही अपना त्यागपत्र दे दिया था। इस संस्था से मेरा उसके बाद से कोई सम्बन्ध नहीँ रहा। षडयंत्र के तहत मेरी छवि खराब करने के लिए मेरे खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है। पुलिस को इस मामले की जाँच जल्द से जल्द निष्पक्ष रूप से करने की ज़रूरत है। ताकि मामले का सच सब के सामने आ सके। इस मामले से मेरा कुछ लेना-देना नहीँ है मैं इस जाँच में पुलिस की पूरा सहयोग करूँगा।”

%d bloggers like this: