ADVERTISEMENT
विविध

आंदोलन को भ्रमित करने का आरोप

6 लोगों को चिन्हित कर DM को भेजी शिकायत

नगर निकाय के विस्तारीकरण के विरोध में कलेक्ट्रेट में चल रहा है धरना

कांग्रेस पर लगा आंदोलन को भटकाने का आरोप

गिरीश गैरोला//

उत्तरकाशी में नगर पालिका विस्तार के विरोध में चल रहे 16 गांव के आंदोलन में उस वक्त भटकाव की स्थिति पैदा हो गई जब शहरी विकास मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री मदन कौशिक के काफिले को रोककर आगजनी कर आंदोलन को उग्र रूप देने का प्रयास किया गया। आंदोलन के संरक्षक नागेंद्र दत्त जगूड़ी ने छह नामजद लोगों के लिस्ट जिलाधिकारी को सौंपी है। उन्होंने आरोप लगाया कि ये  छह लोग कांग्रेसी हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी जब अपने बलबूते पर आंदोलन नहीं चला सकी  तो उन्होंने अपने लोगों को आंदोलन के बीच भेजकर  आंदोलन को भटकाने का प्रयास किया है ।

इसी दौरान कांग्रेस के आरोपी कांग्रेसी कार्यकर्ता और लिस्ट में शामिल दिवाकर भट्ट भी धरना स्थल पर पहुंचे और उन्होंने अपनी सफाई देने की कोशिश की ।उन्होंने कहा कि वह भी प्रभावित मानपुर गांव के रहने वाले हैं और राजनीतिकरण के आरोप के चलते हैं ही उन्होंने आंदोलन के चलने तक कांग्रेस के पदाधिकारी पद से इस्तीफा दे दिया है इस दौरान दोनों तरफ से आरोप-प्रत्यारोप के बाद भगदड़ शुरू हो गई। डांग गांव के अभिषेक जगूड़ी ने आरोप लगाया कि दिवाकर भट्ट द्वारा इस्तीफा जरूर दिया गया है लेकिन इसे संबंधित पक्ष तक नहीं पहुंचाते हुए विगत दो दिनों से अपनी जेब में ही रखा गया है । इसके अलावा जब आंदोलन में उनकी सख्त जरूरत महसूस की जा रही थी उस वक्त दिवाकर भट्ट युवा कल्याण विभाग के दो दिवसीय सरकारी कार्यक्रम में मंच संचालन में व्यस्त थे । बहरहाल गांव बचाओ आंदोलन द्वारा 6 कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की लिस्ट जारी करने के कर उन्हें आंदोलन से बाहर का रास्ता दिखाए जाने के बाद आंदोलन का रूप लेता है यह आने वाला समय बताएगा,  किंतु आंदोलन के संरक्षक एन डी जगूड़ी ने स्पष्ट कहा के नगर विस्तार के संबंध में शहरी विकास मंत्री का बयान भ्रामक है और जो भी बात कही जा रही है वह बगैर दस्तावेजों के कही जा रही है हालांकि उन्होंने यह भी स्पष्ट कहा कि जब तक पालिका विस hb h्तार में शामिल सभी 16 गांव को बाहर नहीं किया जाता उनका आंदोलन जारी रहेगा।

Parvatjan Android App

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: