पहाड़ों की हकीकत

भांग की खेती से मिलेगा रोजगार: त्रिवेंद्र रावत

गिरीश गैरोला//

केवल राजनीति के लिए विरोध करने वालो को आइना दिखाते हुए मुख्य मंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया कि सबसे पहले ये गफलत दूर होनी जरूरी है कि इंडस्ट्रियल  हैम्प में नारकोटिक वैल्यू  है और इससे कोई नशे का कारोबार  फैलने वाला है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में आगे बढ़ते हुए सरकार ने  एक कंपनी से बातचीत भी की है , क्योंकि भारत मे अभी भांग का  वह  बीज उपलब्ध नही है,  लिहाजा फ्रांस और अन्य देशों से बीज मंगाया जा रहा है ।इस बार बीज के लिए भांग की खेती की जाएगी अगली बार उसको विस्तार दिया जाएगा और आने वाले समय मे  यही भांग की खेती भी रोजगार का साधन बनेंगी।

उत्तरकाशी में दो दिवसीय कृषि महोत्सव और विकास मेले का शुभारंभ करने पहुचे सूबे के मुखिया त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मीडिया से उक्त खुलासा किया।

गौरतलब है पूर्वर्ती कांग्रेसी सरकार के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने जब भांग की खेती की बात कही तो कुछ bjp के लोगो ने ही इसे नशे का कारोबार कहते हुए इसका मजाक बनाया था और खेत मे भांग जमने को गाली बताते हुए इसका विरोध अपनी राजनीति चमकाने के लिए किया था।  अब जब इंडस्ट्रीयल हैम्प  की बैज्ञानिकता सबके सामने आ गयी है और प्रचंड बहुमत की  bjp सरकार के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र जो खुद आरएसएस के कार्यकर्ता रह चुके है ने भांग को रोजगार का माध्यम बनाने की सिफारिस  की  तो भांग की राजनीति करने वालो के मुह पर ताले लग गए है।

Parvatjan Android App

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: