एक्सक्लूसिव खुलासा

एक्सक्लूसिव खुलासा : पूर्व मंत्री तथा विधानसभा अध्यक्ष हरबंस कपूर से जुड़े कॉलेज में भी छात्रवृत्ति घोटाला। बैकफुट पर एसआईटी 

कृष्णा बिष्ट 

पूर्व शहरी विकास मंत्री तथा विधानसभा अध्यक्ष रहे हरबंस कपूर से जुड़े कॉलेज में भी छात्रवृत्ति घोटाला सामने आया है। इस कॉलेज का नाम बीहाइव कॉलेज है। यह कॉलेज विधायक हरबंस कपूर के पुत्र अमित कपूर का है। इस कॉलेज में भी फर्जी प्रवेश पत्र के आधार पर फर्जी छात्रवृत्ति के अनेक प्रकरण सामने आ चुके हैं।
 इसके प्रमाण एसआईटी के पास मौजूद हैं, किंतु सत्ता के भारी दबाव के कारण विधायक के पुत्र के इस कॉलेज में एसआईटी छात्रवृत्ति घोटाला होते हुए भी कार्रवाई करने से बच रही है। उदाहरण के तौर पर सूरज सिंह नेगी ग्राम रानीगांव कालसी बड़े व्यवसाई हैं।
 इनके पुत्र चेतन सिंह नेगी द्वारा वर्ष 2014-15 में बीबीए में प्रवेश लेकर 72,500 की धनराशि समाज कल्याण विभाग से प्राप्त की गई। सूरत सिंह नेगी द्वारा 48,000 का वार्षिक आय प्रमाण पत्र तहसील से प्राप्त किया गया।
 सूरत सिंह नेगी द्वारा तहसील से प्राप्त किए गए आय प्रमाण पत्र की स्थिति संदिग्ध बताई जा रही है। सूरत सिंह के पुत्र चेतन सिंह नेगी बीहाइव कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्नोलॉजी का छात्र रहा है। इसी कॉलेज की संस्तुति के आधार पर समाज कल्याण विभाग द्वारा छात्रवृत्ति प्राप्त की गई।
पर्वतजन अपने पाठकों से अनुरोध करता है कि यदि आपको यह खबर जनहित में पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर कीजिएगा
 करोड़पति ठेकेदार भी “बेकार” !!
इसी तरह से विकासनगर के दिनकर विहार में रहने वाले बारू सिंह कई सरकारी विभागों में पंजीकृत ठेकेदार हैं और कई लाख रुपए इनकम टैक्स देते हैं लेकिन उन्होंने भी ₹4000 की कमाई का प्रमाण पत्र बनवाया और इनकी पुत्री रेखा चौहान ने वर्ष 2012-13 मे सन साइन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट एंड साइंस में बीएचएम में प्रवेश लेकर समाज कल्याण छात्रवृत्ति प्राप्त की।
 मोहन सिंह चौहान ग्राम मडोली तहसील कालसी के रहने वाले हैं और वर्तमान में विकासनगर के दुर्गा विहार में रह रहे हैं। मोहन चौहान भी कई विभागों में ए श्रेणी में में पंजीकृत सरकारी ठेकेदार हैं और बड़े आयकर दाता हैं।
 इनकी पुत्री नीलम चौहान ने टेक्निकल एंड मैनेजमेंट कॉलेज देहरादून में बीसीए में प्रवेश किया। वर्ष 2014-15 में इस प्रवेश के लिए मोहन सिंह ने तहसील कालसी से महज ₹5000 का आय प्रमाण पत्र बनवा कर अपनी पुत्री नीलम चौहान को समाज कल्याण विभाग से 35300 की छात्रवृत्ति हड़पी।
केंद्रीय सेवा कर्मचारी भी फर्जी छात्रवृत्ति 
   गोपाल सिंह पंवार केंद्रीय सेवा एसएसबी के डिप्टी कमांडेंट के पद से सेवानिवृत्त हैं। गोपाल पंवार ग्राम कनबुआ सहिया के रहने वाले हैं तथा वर्तमान में न्यू जौनसारी कॉलोनी डॉक्टर गंज विकासनगर देहरादून में रहते हैं।
 इन्होंने अपनी दोनों पुत्रियों को वर्ष 2012-13 में कम आय का प्रमाण पत्र दिखाकर छात्रवृत्ति हड़प की।
 इनकी एक पुत्री उर्वशी पंवार ने द्रोणा कॉलेज ऑफ़ मैनेजमेंट एंड टेक्निकल एजुकेशन सुभाष रोड से एम एड में प्रवेश लेकर समाज कल्याण विभाग से छात्रवृत्ति हड़प की तथा दूसरी पुत्री कावेरी ने भी द्रोणा कॉलेज ऑफ मैनेजमेंट एंड टेक्निकल एजुकेशन देहरादून में बीएड में प्रवेश लेकर समाज कल्याण विभाग छात्रवृत्ति हड़प ली।
पर्वतजन अपने पाठकों से अनुरोध करता है कि यदि आपको यह खबर जनहित में पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर कीजिएगा

Our Youtube Channel

%d bloggers like this: