पहाड़ों की हकीकत

सरकार का फूंका पुतला।यह है कारण

चीन सीमा से लगे उत्तरकाशी बॉर्डर की सरकार कर रही उपेक्षा- विजयपाल सजवाण पूर्व विधायक कांग्रेेस।

गंगोरी पुल हादसे की जांच कमेटी के सामने ही पुल खोलने का काम करे बीआरओ – पूर्व विधायक का बयान।

बार- बार टूट रहे राजमार्ग के पुलों में घटिया गुणवत्ता का आरोप लगाते हुए सरकार का फूंका पुतला।

दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग के साथ कांग्रेस का प्रदर्शन।

गिरीश गैरोला

चीन सीमा को जोड़ने वाले गंगोरी पुल हादसे के बाद भले ही बीआरओ ने नदी के बीच ह्यूम पाइप डालकर अस्थायी यातायात की आवाजाही सुचारू कर दी हो किन्तु स्थानीय लोगों की नाराजगी के बाद कांग्रेस पार्टी ने भी बस अड्डे पर सड़क जाम कर केंद्र सरकार का पुतला फूंका। कांग्रेस के पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ता बस अड्डे पर एकत्र हुए और सरकर के खिलाफ नारे बाजी की।  उन्होंने राजमार्ग पर बार- बार टूट रहे पुलों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की मांग की साथ ही चेतावनी दी कि एक माह के भीतर गंगीरी में वैली ब्रिज तैयार होना चाहिए साथ ही वहाँ पर  स्थायी पुल निर्माण की कार्यवाही भी शुरु होनी चाहिए अन्यथा पार्टी जेल भरो आंदोलन करेगी। पूर्व विधायक सजवाण ने आरोप लगाया कि सरकार चीन सीमा से लगते उत्तरकाशी बॉर्डर की उपेक्षा कर रही है। साथ ही 18 अप्रैल से सुरु होने वाली चार धाम यात्रा को भी हल्के में ले रही है।

लोगों की नाराजगी और तीन बार हादसे का शिकार  हो चुके अकेले गंगोरी पुल हादसे की जांच के  लिए डीएम ने adm पीएल शाह की अध्यक्षता में जांच कमेटी बना दी है।साथ ही बीआरओ को गंगोत्री यात्रा मार्ग पर 14 सेंसटिव स्थलों पर सुधार करने के निर्देश दिए है। साथ ही गंगोत्री हाई वे पर स्वारी गाड़ पर बने वैली ब्रिज की सुरक्षा को लेकर भी स्पष्ट निर्देश दिए है।भले ही डीएम ने गंगोरी पुल हादसे के कारणों की जांच के लिए जांच कमेटी बना दी हो किन्तु बीआरओ ने बिना जांच कमेटी की जांच किये ही हादसे का शिकार हुए पुल को खोलना शुरु कर दिया है। स्थानीय निवासी राजवीर रावत ने बताया कि हर बार की तरह इस बार भी बीआरओ अपनी तकनीकी खामियों  को छुपाने के लिए  ओवर लोड के लिए ट्रक चालक को दोषी करार दे रही है और खुद बिना जांच कमेटी के देखे ही पुल के पिन पॉइंट्स और बेयरिंग हटा ली गयी है और पुल को खोलना शुरु कर दिया गया है। अगर ऐसे ही पुल खुल गया तो आखिर  जांच कमेटी क्या देखकर जांच करेगी।पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण ने भी जांच कमेटी के सामने ही पुल खोलने की मांग की है।

Parvatjan Android App

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: