राजकाज

सीएम ने निर्माण निगम के लंबित कार्यों की तय की समय सीमा

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री आवास में उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य के साथ उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रगति के सम्बन्ध में बैठक की।

बैठक में उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि 05 करोड़ रूपये से कम लागत की सभी 351 परियोजनाएं मार्च 2018 तक पूर्ण कर ली जाए। निर्माण कार्यों की गुणवत्ता और पारदर्शिता का विशेष ध्यान रखा जाए। कार्य के प्रति किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जायेगी। 05 करोड़ रूपये से अधिक की परियोजनाओं जिनकी भौतिक प्रगति 75 प्रतिशत से अधिक हो चुकी है, को प्राथमिकता पर रखते हुए एक वर्ष के अन्दर पूर्ण करने के निर्देश दिये गये। 05 करोड़ रूपये से अधिक लागत वाली परियोजनाओं का थर्ड पार्टी इंस्पेक्शन किया जायेगा। जबकि छोटी परियोजनाओं की नियोजन विभाग के स्तर पर समीक्षा की जायेगी।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि केन्द्रीय वित्त पोषित योजनाओं के कार्याें में भी तेजी लायी जाय। बैठक में निर्माण एजेंसियों के अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि प्रत्येक प्रोजक्ट की प्रति माह की कार्य प्रगति का पूर्ण विवरण दिया जाए। उन्होंने कहा कि कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी।

बैठक में अपर मुख्य सचिव श्री ओम प्रकाश, प्रमुख सचिव श्री आनन्द वर्द्धन, वित्त सचिव श्री अमित नेगी, यूपी निर्माण निगम के एमडी श्री विश्व दीपक, उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारी एवं निर्माण निगम के अधिकारी उपस्थित थे।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published.

Parvatjan Android App

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: