पहाड़ों की हकीकत

यात्रामार्ग यमनोत्री के 18 जगह खतरनाक। तीन विभाग ने किया चिन्हित

सड़क दुर्घटनाओं का आंकड़ा 50% घटाने के सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के बाद विभागों की कसरत शुरू
यमनोत्री मार्ग पर 18 डेंजर पॉइंट्स
पुलिस राजस्व और लोक निर्माण विभाग का संयुक्त निरीक्षण
 
गिरीश गैरोला
सड़क दुर्घटनाओं को न्यूनतम करने को लेकर सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद देश भर में पुलिस विभाग ने सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान शुरू कर दिया है। यातायात नियमों के पालन के साथ चार धाम यात्रा मार्ग पर डेंजर बने हुए पॉइंट्स पर तेजी से सुधार के लिए संबंधित विभाग यात्रा शुरू होने से पूर्व कसरत में जुट गए हैं।
 गौरतलब है कि सड़क दुर्घटनाओ में मरने वालों लोगों की बड़ी तादाद को देखते हुए उच्चतम न्यायालय और उच्च न्यायालय ने आने वाले वर्षो में दुर्घटनाओं को 50% कम करने की दिशा में कार्य करने के दिशा निर्देश जारी किए है।
चार धाम यात्रा की पूर्व तैयारी को लेकर यमनोत्री
मार्ग पर लोक निर्माण विभाग एनएच और राजस्व विभाग की टीम पुलिस के साथ संयुक्त निरीक्षण किया।
सीओ पुलिस गणेश कोहली और थानाध्यक्ष बड़कोट विनोद थपलियाल ने बताया कि तुनालका -राड़ी टॉप से जानकी चट्टी तक 18 डेंजर पॉइंट्स चिन्हित किये गए हैं, जहाँ पर संबंधित एन एच को इस स्थानों पर सुरक्षा कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं।
 कुछ स्थानों पर क्रेस बैरियर , कुछ पर ब्रेस्ट वाल तो कुछ पर सपोर्ट वाल देने के सुझाव दिए गए हैं। गौरतलब है कि यमनोत्री मार्ग पर ओजरी के पास भले ही इस समय पहाड़ी से भुस्खलन रुका हुआ है, किन्तु वर्षा काल से पूर्व इसका स्थायी समाधान नही किया गया तो फिर से यात्रा प्रभवित हो सकती है।
 सीओ ने बताया कि एनएच द्वारा इसे आल वेदर रोड में शामिल किए जाने का प्रस्ताव दिया गया है। पिछले दिनों यात्रा काल के अंतिम समय तक एक महीने तक इस रोड पर यात्रा रुक-रुक कर बाधित रही थी, जिस पर अभी पर्याप्त बजट नही होने से स्थायी समाधान नही किया जा सका है।

Parvatjan Android App

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: