एक्सक्लूसिव सियासत

डोईवाला में लगातार दूसरे दिन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत का विरोध 

 देहरादून के डोईवाला नगर पालिका क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी को हराने के बाद उत्साहित कांग्रेस में लगातार दूसरे दिन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।
आज दिनांक 6-12-2018 को डोईवाला कांग्रेस व अन्य संगठन से जुड़े पदाधिकारियों, किसानों व शुगर मिल श्रमिकों ने डोईवाला शुगर मिल गेट के बाहर गन्ने के रुके हुए भुगतान व मिल कर्मचारियों के वेतन के सम्बंध में मुख्यमंत्री के आगमन का विरोध करते हुए काली पट्टी बाँधकर धरना प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि जब गन्ना मूल्य तय ही नहीं किया गया तो आनन-फानन में पेराई शुरू करने की क्या आवश्यकता है !
 एक ओर किसानों का ₹20 करोड़ के पिछले बकाया का भुगतान होना बाकी है वहीं दूसरी ओर खानापूर्ति के लिए पेराई ही शुरु कर दी गई।
 किसानों का कहना था कि जब विधिवत रूप से तैयारी ही नहीं है तो इस प्रकार रिबन काटने का क्या औचित्य है !
 कांग्रेस पार्टी के प्रदर्शनकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत जो कि स्वयं डोईवाला के विधायक भी हैं डोईवाला चीनी मिल को किसी शराब फैक्ट्री वाले को पीपीपी मोड पर देने का काम कर रहे हैं, जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
 गौरतलब है कि दिसंबर का पहला सप्ताह गुजरने के बाद जबकि गेहूं बुवाई का समय निकला जा रहा है, तब तक भी किसानों को न तो गन्ने की पर्चियां बांटी गई है और न ही नया मूल्य ही तय किया गया है। ऐसे में किसानों द्वारा मुख्यमंत्री के आगमन पर काली पट्टी बांधकर चीनी मिल के बाहर धरना देने से माहौल गर्मा गया।
धरने का संचालन करते हुए डोईवाला ब्लोक कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष मनोज नौटियाल ने कहा की मिल का उद्धघाटन आनन फ़ानन में बिना किसी तैयारी के किया जा रहा है जो सरासर ग़लत क़दम है। राजीव गांधी पंचायत राज संगठन के प्रदेश संयोजक मोहित शर्मा उनियाल ने कहा कि गन्ना किसानों का करीब 20 करोड़ भुगतान शेष है व श्रमिकों का वेतन काफ़ी समय से रुका है। डोईवाला युवा कांग्रेस नगर अध्यक्ष व डोईवाला नगर पालिका पार्षद गौरव मल्होत्रा ने कहा की पूर्व में भी ईड़ी को श्रमिकों व किसानों की समस्या से अवगत कराया गया मगर सरकार मौन धारण किया हुए है। जोली ग्रांट के पूर्व प्रधान सागर मनवाल ने कहा कि सरकार मिल को निजी हाथों में देने की तैय्यारी कर रही है, जिसका विरोध किया जायेगा। दलजीत सिंह जी ने गन्ना मूल्य 400 रु कुन्तल करने की माँग को लेकर ज्ञापन भी सौंपा । वरिष्ट कांग्रेसी हाजी मीर हसन जी व हरपाल सेनी जी ने भी प्रदर्शन करते हुए अपना विरोध दर्ज किया व जल्द भुगतान करने की माँग की।
धरना प्रदर्शन में डोईवाला कांग्रेस नगर अध्यक्ष राजबीर खत्री,अजय सैनी,नगर पालिका पार्षद अब्दुल क़ादिर, सुनील बरमन,सुरेंद्र खालसा,सुन्दर, वसीम,अजय सेनी,कमल अरोरा,सुबोध उनियाल,दया राम पाल,शेर सिंह पाल,नागेंद्र, सुरेंद्र सिंह, गन्ना समिति उपाध्यक्ष त्रिलोक सिंह, अनिश अहमद,उस्मान व अन्य बुज़ुर्ग किसान व मिल श्रमिक मौजूद थे।
 देखना है कि अब डोईवाला चीनी मिल के बाहर बैठे किसानों की मांग पर मुख्यमंत्री क्या रुख अपनाते हैं !

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published.

Our Recent Videos

[yotuwp type=”username” id=”parvatjan” ]

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: