एक्सक्लूसिव

इनवेस्टर समिट: बैठने को कुर्सियां तक नही मिली व्यावसायियों को !

कमल जगाती, नैनीताल

उत्तराखण्ड के भीमताल में उत्तराखण्ड इन्वेस्टर्स समिट, तृतीय मिनी कॉन्क्लेव को एक छोटे से हॉल में कराया गया जिसमें दर्जनों पर्यटन व्यवसाइयों को कुर्सी तक नहीं मिल सकी । मुख्यमंत्री की मौजूदगी में हुए इस कार्यक्रम में संगठनों के अध्यक्ष और पदाधिकारियों को सीट तक नसीब नहीँ हुई।
भीमताल में कंट्री इन होटल के हॉल में हुए इस कार्यक्रम में 95 सीट रखी गई थी । पर्यटन में होटल और ट्रेवल्स समेत पर्यटन से जुड़े विभिन्न संगठनों को नैनीताल भवाली, भीमताल, मुक्तेश्वर, नौकुचियाताल आदि जगहों से बुलाया गया था। कॉन्क्लेव में फ़िल्म मेकिंग उद्योग से जुड़े भी कई लोग मौजूद थे जिन्हें बैठने तो क्या हॉल में घुसने तक की जगह नहीं मिली। लगभग 60 फ़ीट X 45 फ़ीट के हॉल में कार्यक्रम कराया गया था। इसी कमरे में योजनाओं को डिस्प्ले करने के लिए एक टी.वी.भी लगाया गया था । हॉल में मुख्यमंत्री और विधायकों के साथ अधिकारियों के स्टाफ भी बड़ी संख्या में मौजूद रहे। इस बीच होटल, ट्रेवल्स और फ़िल्म उद्योग के कई लोगों को खड़े रहना पड़ा। जिसे जहां जगह मिली वो वहीं खड़ा रहा या बैठ गया । होटल एसोसिएशन नैनीताल के वेद साह, ब्रिज साह, राजू जेठी, शोभित बंसल आदि, ट्रेवल्स एसोसिएशन से दीवान रौतेला, दीपक मटियाली आदि, भीमताल और नौकुचियाताल से अर्जुन वर्मा आदि, फ़िल्म उद्योग से विक्की योगी आदि, मुक्तेश्वर होटल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष सुदर्शन शाही, सचिव आशी, दीपक बिष्ट, देवेंद्र बिष्ट, विक्रम बिष्ट आदि को सीट नहीं मिल सकी । उत्तरांचल दीप अखबार के प्रमुख संपादक साकेत अग्रवाल को भी खड़े रहना पड़ा ।
बैठक में कालाढूंगी विधायक वंशीधर भगत,
भीमताल विधायक राम सिंह केडा, प्रमुख सचिव मनीषा पवार, महानिदिशेक उद्योग सौजन्या, पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर, आयुक्त राजीव रौतेला और जिलाधिकारी विनोद कुमार सुमन आदि मौजूद रहे। पद्म भूषण यशोधर मठपाल भी कार्यक्रम में मौजूद रहे । कार्यक्रम में पर्यटन के क्षेत्र में फ़िल्म उद्योग को लेकर हम कैसे आगे बढ़ सकते हैं ? सरकार ने बताया फ़िल्म और उद्योगों के लिए सिंगल विण्डो सिस्टम, नियमों का सरलीकरण और ऑनलाइन किया गया है । उत्तराखण्ड को 5 ज़ोन में बांटा गया है । सब्सिटी 5 से 10 प्रातिशत दी जाएगी। ट्रांसपोर्ट व दूसरी स्टाम्प ड्यूटी पर भी डिस्काउंट दिया जाएगा। उद्योग के लिए सब्सिडी दी  जाएगी । उत्तराखण्ड पर्यटन पर एक डॉक्यूमेंट्री भी दिखाई गई ।
मुख्यमंत्री देहरादून से चलकर लगभग 11:30 बजे कार्यक्रम स्थल पहुँचे। कार्यक्रम शुरू होने के एक घंटे बाद पानी सर्व किया गया ।

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: