एक्सक्लूसिव खुलासा

आरटीआइ खुलासा : मेयर साहब ने ली 20 लाख की लग्जरी गाड़ी। फिजूलखर्ची का चरम

कमल जगाती, नैनीताल

उत्तराखण्ड के हल्द्वानी में नगर निगम के मेयर ने नियमों की अनदेखी कर अपने लिए 20 लाख रुपये से अधिक की लक्जरी कार खरीदी है। इसके अलावा भी आर.टी.आई.से मिली जानकारी के अनुसार नगर निगम चुनाव के बाद हुए शपथग्रहण में सात लाख पच्चीस हजार सात सौ(₹7,25,700/=) रुपये की धनराशि शपथग्रहण समारोह में खर्च की गई है।

वर्ष 2016 के शासनादेश के अनुसार निगम में केवल छः लाख रुपये तक की गाड़ी खरीदी जा सकती है।
ये खुलासा सूचना का अधिकार अधिनियम(आर.टी.आई.)के तहत हुआ है। हल्द्वानी निवासी हेमंत गौनिया द्वारा 4 जनवरी 2019 को मांगी गई सूचना के बाद सात फरवरी को लोक सूचना अधिकारी ने चार बिंदुओं पर जानकारी देते हुए ये खुलासा किया है।

दी गई जानकारी में बताया गया है कि निगम के मेयर और सभासदों के रामलीला मैदान में आयोजित शपथग्रहण में अबतक कुल ₹7,25,700/= रुपये की धनराशि खर्च की गई। इसके अलावा बताया गया है कि मेयर के लिए लक्जरी गाड़ी की खरीद में भी बीस लाख तिरेसठ हजार पिछत्तर(20,63,075/=) रुपये का खर्च किया गया है, जबकि पिछली महिंद्रा बोलेरो गाड़ी की खरीद में निगम ने कुल ₹6,87,766/= रुपयों का भुगतान 13 वें वित्त आयोग की धनराशी से किया गया था।

सूचना में ये भी बताया गया है कि इस वर्ष वाहन खरीद की धनराशि को नगर निगम हल्द्वानी-काठगोदाम बोर्ड फंड से किया गया है। उत्तराखण्ड सरकार के परिवहन विभाग के शासनादेश संख्या 169 तिथि 10 मार्च 2016 के द्वारा राज्य में वाहन क्रय किये जाने के लिए वित्तीय सीमा तय की गई है।

 

इसके अनुसार अधिकृत अधिकारी/ निदेशालयों के अधिकारी/निगमों के अधिकारी आदि/समकक्ष को छः(6)लाख रुपये तक कि गाड़ी खरीदने की अनुमति है।

हमने हल्द्वानी के मेयर जोगिंदर सिंह रौतेला को फोन से संपर्क करने का प्रयत्न किया लेकिन उन्होंने व्यस्तता जताई है।

%d bloggers like this: