राजकाज

एमडीडीए आवासीय परियोजनाओं में देरी पर वीसी हुए सख्त 

कुलदीप एस राणा

यूपी निर्माण निगम को दी चेतावनी
निर्माण निगम का कार्य संतोषजनक नही

एमडीडीए के वीसी  डॉ आशीष कुमार प्राधिकरण कार्यालय में आयोजित आवासीय परियोजनाओं की समीक्षा बैठक  निर्माण की धीमी गति को लेकर खासे नाराज़ हैं। जिस पर उन्होंने संबंधित अधिकारियों की जम कर क्लास ली।
समीक्षा बैठक में  आईएसबीटी के पास निर्माणाधीन एचआईजी हाउसिंग के धीमे निर्माण कार्य पर वीसी ने उत्तर प्रदेश निर्माण निगम इकाई 4  के अधिकारियों के खूब पेच कसे  साथ ही  ट्रांसपोर्टनगर आवासीय योजना के अंतर्गत एमआईजी फ्लैट्स के निर्माण को 30 अप्रैल तक पूर्ण करने का आदेश किया।
निर्माण कार्य समय पर पूरा न करने की दशा में प्राधिकरण के अधिकारियों को निर्माण निगम पर दंडात्मक कार्यवाही करने के निर्देश भी दे डाला।
आमवाला तरला में पंहुच मार्ग के निर्माण कार्य को शीघ्रता से पूर्ण किये जाने को भी निर्माण निगम को निर्देशित किया।
बैठक में ज्यों ज्यों परियोजनाओं के निर्माण कार्य की समीक्षा आगे बढ़ रही थी निर्माण की धीमी गति पर आशीष कुमार  का पारा भी चढ़ता जा रहा था लेटलतीफी पर निर्माण निगम व हिन्दुस्तान स्टील वर्क्स कन्सट्रक्शन लिमिटेड को 23 अप्रैल समस्त आवासीय योजना की गति बढ़ाये जाने हेतु एक्शन प्लान प्रस्तुत करने को कहा।

एमडीडीए वीसी  डॉ आशीष कुमार

समीक्षा के दौरान  ट्रांसपोर्ट नगर आवासीय योजना के अन्तर्गत एमआईजी आवासीय योजना में कार्य की गति बनाये रखने हेतु तीन करोड़ रुपये के भुगतान किये जाने के का आदेश  भी  जारी किया
समीक्षा बैठक में ताबड़तोड़ फैसले लेते हुए आशीष कुमार ने  ट्रांसपोर्ट नगर आवासीय योजना हेतु वर्तमान पंहुच मार्ग ,जो  ट्रांसपोटर्स हेतु आवंटित क्षेत्र के मध्य से गुजरता है, जिससे  बार बार क्षेत्रवासीयों को  परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। आवासीय योजना तक पहुचने के लिए  चन्द्रबनी क्षेत्र से एक अन्य वैकल्पिक मार्ग बनाये जाने का भी निर्णय लिया  प्राधिकरण की ISBT स्थित आवासीय योजना  में लिफ्ट एवं अन्य विद्युत संबंधी समस्याओं पर अवर अभियंता  को आड़े हाथ लेते हुए इसे तुरंत  ठीक करने  का निर्देश दिया व  अधिकारियों से 10 से 15 दिनों के भीतर आरडब्लूए के चुनाव भी कराये जाने को कहा है।

Parvatjan Android App

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: