एक्सक्लूसिव खुलासा

सुपर एक्सक्लूसिव  : विधानसभा मे आज हरक सिंह और मदन कौशिक का होगा जबाब तलब

उत्तराखंड विधानसभा में आज बुधवार को विधायक शहरी विकास तथा आवास मंत्री मदन कौशिक और वन पर्यावरण  तथा कौशल विकास मंत्री हरक सिंह रावत को अपने सवालों से घेरेंगे।

विधान सभा की कार्यसूची के अनुसार इन दोनों मंत्रियों को घेरने वाले अधिकांश भाजपा के ही विधायक हैं। विधायकों ने बुधवार के लिए इन दोनों मंत्रियों से राज्य हित से जुड़े कई गंभीर सवाल पूछने की तैयारी की हुई है। देखना यह है कि सदन में यह दोनों मंत्री और उनके अफसर कितनी गंभीरता से और जिम्मेदारी से इन सवालों का जवाब देते हैं !

शहरी विकास मंत्री जी की शामत !

शहरी विकास तथा आवास मंत्री मदन कौशिक से भाजपा के राजपुर विधायक खजान दास ने पूछा है कि एडीबी के द्वारा चलने वाली सीवर लाइनें कितनी सुचारू हैं और गुणवत्ता से काम नहीं करने वाली कार्यदाई संस्थाओं के खिलाफ क्या कार्यवाही की गई है ! वहीं गिरासू भवनों से जनहानि रोकने के लिए सरकार क्या कार्यवाही कर रही है !

धनोल्टी विधायक प्रीतम सिंह पंवार ने हाल ही में नगर निगम और नगर पालिका में शामिल किए गए गांव के विकास के लिए अतिरिक्त बजट और विकास कार्यों की जानकारी मांगी है।

केदारनाथ के विधायक मनोज रावत ने आवास मंत्री मदन कौशिक से पूछा है कि राज्य में जिला स्तर पर विकास प्राधिकरण के गठन की आवश्यकता क्या है और यहां क्या सुविधाएं सरकार दे रही है !

देशराज कर्णवाल कौशल विकास मंत्री से हरिद्वार में चलने वाले कौशल विकास केंद्रों और उनकी गड़बड़ियों को लेकर सवाल पूछेंगे तो खजान दास उत्तराखंड में सेवायोजन कार्यालयों की स्थिति और उनके द्वारा दिए जाने वाले रोज़गार के विषय में जवाब तलब करेंगे।

हरक सिंह को इन विषयों पर हड़काया जाएगा

खजान दास बंदर और सुअरों से फसलों को होने वाले नुकसान तथा किसानों को इसके कारण दिए जाने वाले मुआवजे को लेकर आज वन मंत्री को कटघरे में खड़ा करेंगे।  केदारनाथ विधायक मनोज रावत श्रमिकों के लिए चलाई जाने वाली कल्याणकारी योजनाओं और उनको दिए गए धन के आवंटन को लेकर हराक सिंह को घेरेंगे।

प्रीतम सिंह पंवार ने और रितु खंडूरी ने हरक सिंह रावत से यह सवाल पूछा है कि वन भूमि पर काबिज भूमिहीन काश्तकारों के लिए क्या योजना है और आश्रमों से निकलने वाला कूड़ा कचरा सीधे नदी में डाले जाने पर क्या कार्य किए जा रहे हैं  और कितना जुर्माना वसूला गया है !

सल्ट विधायक सुरेंद्र सिंह जीना ने इको टूरिज्म का लाभ पर्वतीय क्षेत्रों को दिए जाने के विषय में सवाल लगाया है तो वहीं देवप्रयाग विधायक विनोद कंडारी ने 5 सालों में जंगली जानवरों द्वारा किए गए नुकसान का हिसाब किताब मांगा है।

यह भी पढिए 

http://*देखिए वीडियो: मंत्री पुत्र ने अफसरों को धमकाया। बर्खास्त कर दूंगा* https://parvatjan.com/Minister-son-bjp-uttarakhand

इसके अलावा आज राज्यपाल के अभिभाषण को लेकर विभिन्न विधायक चर्चा करेंगे और अभिभाषण में छूट गए बिंदुओं की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित करेंगे।

आज सदन में इस तरह के कई महत्वपूर्ण प्रश्नों को लेकर चर्चा की जानी है।

हालांकि आज सदन समय से पहले ही स्थगित किया जा सकता है, क्योंकि विधायकों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम मे शामिल होना होगा। और विधायकों को इसकी तैयारी के लिए रुद्रपुर निकलना होगा। किंतु यदि सदन पूरा चले तो यह तय है कि कई सारे सवालों के जवाब मंत्रियों से देते नहीं बनेंगे।

%d bloggers like this: