पहाड़ों की हकीकत

ऐसे में पौड़ी से कैसे होगी चारधाम यात्रा

विभाग की लापरवाही कभी भी भारी पड़ सकती है यात्रियों पर

नरेंद्र नेगी /अनुज नेगी

पौड़ी। एक ओर प्रशासन पौड़ी को चारधाम रूट से जोड़ने की कवायद में लगा है,वहीं दूसरी ओर राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग इसको पलीता लगाने अपनी कोई कसर नही छोड़ रहा है।
राष्ट्रीय राजमार्ग 119 नजीबाबाद-बुआखाल की मुख्य सड़क पर राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग की लापरवाही यात्रियों पर कभी भी भारी पड़ सकती है। इस मुख्य मार्ग पर यात्रा सीजन शुरू होते ही दिन भर सैंकड़ों वाहन चलते हैं और यह लापरवाही किसी की जान पर भी भारी पड़ सकती है।
राष्ट्रीय राजमार्ग 119 पर कोटद्वार से सतपुली के बीच में पिछले डेढ़ वर्ष से करोड़ो की लागत से चार नये पुलो का निर्माण किया जा रहा है, मगर विभाग की ओर से इन चार पुलों में से अभी तक एक भी पुल का निर्माण नही किया जा सका है। बाकी तीन नये पुलो के लिए पिछले एक वर्ष से पुराने पुलों के समीप गहरी खुदाई कर दी गई है, जिसके कारण आये दिन इन जगहों पर हादसे होते रहते हैं। यहां 100 फुट से भी ज्यादा गहरा गड्ढा किया हुआ है। इस गड्ढे के चारों और न तो पत्थर रखे गए हैं और न ही कोई निशान लगाया है ताकि किसी को पता चल सके कि यहां पर गड्ढा किया गया है।
इस कारण यहां पर कभी भी कोई हादसा हो सकता है क्योंकि मोड़ पर होने के कारण यह गड्ढा दूर से दिखाई नहीं पड़ता है, जिस कारण कोई भी वाहन चालक इस गड्ढे में गिर सकता है।
यहां से गुजरने वाले यात्रियों ने बताया कि लगभग पिछले एक वर्ष से विभाग ने जे.सी.बी. द्वारा यहां पर एक गड्ढा करवाया है मगर अभी तक भी इस गड्ढे के चारों ओर पत्थर या कोई निशान नहीं लगाए गए हैं, जिस कारण यहां से गुजरने वाले वाहन कभी भी इस गड्ढे में गिर सकते हैं और कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है।
स्थानीय लोगों ने बताया कि यदि यहां पर जल्द से जल्द कोई सुरक्षा के उपाय नहीं किए गए तो कोई बड़ा हादसा हो सकता है इसलिए उन्होंने विभाग से गुजारिश की है कि जल्द उचित प्रबंध किए जाएं ताकि कोई हादसा न हो।

राष्ट्रीय राजमार्ग धुमाकोट के अधिशासी अभियंता नरेंद्र कुमार कहते हैं कि हमने मार्ग पर डायवर्जन किये हैं और जल्द ही इन पुलों का निर्माण किया जायेगा। साथ ही ठेकेदार को समय सीमा से निर्माण कार्य पूर्ण करने के नोटिस दे दिया है।

%d bloggers like this: