एक्सक्लूसिव

पुलिस की दबंगई पर खफा मानवाधिकार आयोग ने एसएसपी से मांगा जवाब

भूपेंद्र कुमार
डालनवाला कोतवाल राजीव रौथाण तथा पुलिस कर्मियों द्वारा एक बाइक सवार को पुलिस वैन के अंदर डालकर पिटाई करने के मामले में मानवाधिकार आयोग ने एसएसपी से 4 हफ्तों स्टेटस रिपोर्ट  में तलब कर दी है। 30 अप्रैल को रूटीन चेकिंग के दौरान एक बाइक सवार कागज नहीं दिखा पाया तो शराब का सेवन किए होने के शक में पुलिस ने बाइक सवार को अपनी गाड़ी के अंदर डालकर पीट दिया था।
 मौके पर वीडियो बनाने वाले पत्रकार को धमकाने से भी पुलिस पीछे नहीं रही थी। इस मामले में इस संवाददाता ने इसको मानवाधिकार का उल्लंघन करार देते हुए जनहित मे मानवाधिकार आयोग का दरवाजा खटखटाया था।
आपत्ति इस बात पर थी कि शराब के सेवन की जांच करने के लिए पुलिस के पास एल्कोमीटर तक नहीं था और पिटाई तो हर लिहाज से गलत थी।
 पुलिस के पास गाड़ी को सीज करने, चालान करने अथवा थाने में ले जाने का विकल्प भी था किंतु राजीव रौथाण के नेतृत्व में तीन चार पुलिसकर्मियों ने युवक को अपनी वैन में डालकर पीट लिया था।
 मानवाधिकार आयोग में पुलिस के इस व्यवहार को लेकर खासी नाराजगी बताई है और एसएसपी को चार सप्ताह में जवाब तलब किया है।
%d bloggers like this: