सियासत

एसडीएम के खिलाफ क्यों लगे मुर्दाबाद के नारे

कोटद्वार थाना क्षेत्र के अन्तर्गत शहर और ग्रामीण इलाकों मे लगातार चोरी की घटनाएं होती जा रही हैं। जिसको लेकर ग्रामीणो मे भारी आक्रोश है। चोरी की घटनाओं को देखते हुए आज पूर्व सैनिकों और ग्रामीणों ने नगर की मुख्य सड़कों से होते हुए पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कोतवाली पंहुचे जहां पर पूर्व सैनिकों और ग्रामीणों ने पुलिस का घेराव किया।

                    देखिए वीडियो 

COPYRIGHTS @ PARVATJAN

जब पुलिस ने पूर्व सैनिकों और ग्रामीणो संतोषजनक जवाब नही दिया तो। पूर्व सैनिक और ग्रामीण चोरी की घटनाओं और नशे के कारोबार को बंद कराने की मांग को लेकर उपजिलाधिकारी के पास पंहुचे तो उपजिलाधिकारी ने भी पूर्व सैनिकों और ग्रामीणो से दूरियां बना ली, जिसके बाद ग्रामीणो ने अपना आपा खो दिया और एसडीएम मुर्दाबाद के नारे लगाए और उपजिलाधिकारी कार्यालय के बाहर हंगामा करना शुरू कर दिया।

इसके बाद उपजिलाधिकारी ने ज्ञापन लेने से साफ इंकार कर दिया और अपना कार्यालय छोड़कर चलते बने।

इसके बाद उन्हें पूर्व सैनिकों ने और जनता ने घेर लिया। पुलिस ने बड़ी मुश्किल से उपजिलाधिकारी कमलेश मेहता को उनके कार्यालय में पहुंचाया। आपको बताते चलें कि उपजिलाधिकारी कमलेश अपने इस व्यवहार को लेकर अक्सर सुर्खियो में रहते हैं। अभी कुछ दिन पूर्व ही उपजिलाधिकारी ने नगर निगम की बोर्ड बैठक में पत्रकारों के साथ भी अभद्र व्यवहार किया था, इससे पत्रकार भी हैरान थे।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: