एक्सक्लूसिव धर्म - संस्कृति पर्यटन

उत्तरकाशी माघ मेले में दुकानों के आवंटन को लेकर ब्लैकमेलिंग का आरोप।

गिरीश गैरोला ।

उत्तरकाशी के पौराणिक माघ मेला बाराहाट का थौलु मे सजने वाले  बाजार मे दुकानों के आवंटन के लिए कुछ संगठन ब्लैक मेलिंग पर उतर आये हैैं। जिला पंचायत अध्यक्ष जसोदा राणा ने ऐसे संगठनों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करते हुए निपटने के निर्देश कर्मचारियों को दिए हैं।

गौरतलब है कि माघ मेले के लिए लगने वाली दुकानों का टेंडर 11 लाख 85 हजार में निकला है। जबकि झूला और चर्खी  का टेंडर 11 लाख 91 हजार  मे निकला है। माघ मेले में अतिरिक्त शुल्क लेकर दुकानों के आवंटन की शिकायत के बाद मौके पर पहुंची जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती जशोदा राणा ने साफ कहा कि कुछ युवा संगठन ब्लैक मेलिंग पर उतर आए हैं , और 10 से 20 दुकानें अपने लिए देने की मांग कर रहे हैं ।

अध्यक्ष ने साफ कहा कि  10 बाय 10 फीट की दुकान 1400रु प्लस जीएसटी और फड़ 3000 प्लस जीएसटी में दी जानी हैं। वहीं सरकारी स्टॉल ₹10000 में दे जायेंगे। इससे अधिक मूल्य पर दुकानें बेचे जाने की शिकायत जिला पंचायत से की जा सकती है । उन्होंने कहा कि दुकान आवंटन को लेकर ब्लैकमेलिंग करने वालों पर शक्ति से निपटा जाएगा।

यह भी पढ़िए 

माघ मेले में पहलवानों का दिखेगा बाहुबल।14 जनवरी को माघ मेला का उद्घाटन करेंगे कबीना मंत्री अरविंद पांडे। 21 जनवरी को मेले के समापन अवसर पर पहुंचेंगे मुख्यमंत्री।

सीमांत जनपद उत्तरकाशी का पौराणिक माघ मेला 14 जनवरी से शुरू हो रहा है। तिब्बत से भारत के व्यापारिक संबंधों की याद दिलाता बाडाहाट का थौलु अब तक कई तरह के बदलाव देख चुका है। जिला पंचायत अध्यक्ष जसोदा राणा ने बताया कि इस बार का माघ मेला पिछले महीनों की तुलना में कुछ हटकर होगा। स्थानीय संस्कृति के परिचायक सरनौल के पांडव लाल गर्म सबल को चाटते हुए दिखाई देंगे और खौलते गर्म तेल में हाथ से पकोड़े निकालने का करतब दिखाएंगे । माघ मेले के दौरान इस बार 18,  19 और 20 जनवरी को कुश्ती का आयोजन किया जाएगा। जिसमें देश भर के पहलवान जोर आजमाइस करेंगे। गंगा घाट पर प्रतिदिन 6:00 बजे शाम को भव्य गंगा आरती का आयोजन होगा। वहीं चोरी और उपद्रव करने वाले शरारती तत्वों पर 15 सीसीटीवी कैमरों से नजर रखी जाएगी। उन्होंने बताया इस बार स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया गया है। मेला क्षेत्र को 8 सेक्टर में बांटकर सेक्टर मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है । सफेद रंग की विशेष की शर्ट में पर्यावरण मित्र सफाई कर्मी के रूप में तैनात रहेंगे। गंगा किनारे सभी घाटों पर प्रकाश की व्यवस्था और चेंजिंग रूम बनाए गए हैं।  मेले के समापन अवसर पर पहुंच रहे हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के स्वागत में मोरी ब्लॉक पर्वत के विशेष वाद्ययंत्र धौंसे का प्रदर्शन किया जाएगा।  साथ ही स्थानीय संस्कृति और पहनावे पर आधारित फैशन शो का भी आयोजन  किया जाएगा।  मेले के दौरान समाज के विभिन्न क्षेत्रों से निकली प्रतिभाओं का भी सम्मान किया जाएगा। 7 दिन चलने वाले इस मेले के में राज्य मंत्री मंत्री धन सिंह रावत , कबीना मंत्री डॉ हरक सिंह,  प्रभारी मंत्री मदन कौशिक और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट भी बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। इस बार मेला स्थल पर देव  डोली और उनके पश्वा के नृत्य के लिए अलग से स्थान आरक्षित किया गया है।

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: