खुलासा

फिर अश्लील वीडियो वायरल।मुकदमा दर्ज।

पुरोला मे एक युवती का अश्लील वीडियो वायरल होने का मामला 
पुलिस ने तीन आरोपियों के विरुद्ध आईटी एक्ट में किया मुकदमा दर्ज।
पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने किया मामला दर्ज।
जांच में जुटी पुलिस।
नीरज उत्तराखंडी
उत्तराखंड मे उत्तरकाशी जिले के पुरोला नगर क्षेत्र में एक नेपाली युवती का अश्लील वीडियो  वायरल होने पर पुलिस ने बबलू नाईक,दीपक राॅय एवं अनिल क्षेत्री अध्यक्ष गोरखा समुदाय के खिलाफ आईटी एक्ट  के तहत मामला दर्ज कर दिया है। यह वायरल एसएमएस आजकल नगर क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।
थानाध्यक्ष बीएस चौहान ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। पेंच यह है कि आईटी ऐक्ट के मामलों की जांच इंसपेक्टर रैंक से नीचे का पुलिस कर्मी नही कर सकता,और वह अभी अवकाश पर है। चौहान ने बताया कि जांच अधिकारी तय होने पर धाराएं बढाई जा सकती हैं।
पुरोला क्षेत्र में करीब एक महीने पहले से एक युवती की अश्लील वीडियो बनाये जाने की चर्चा चल रही थी। फिलहाल जो वीडियो पुलिस के पास है ,वह लगता है कि युवती ने खुद ही अपने मोबाईल से बनाई है। इसमे वह अपने अंतरंग अंगों के साथ खेल रही है।इसके अलावा यह चर्चा है कि इनमे से एक व्यक्ति ने युवती के साथ शारीरिक संबंधों की वीडियो भी बनाई है।किन्तु यह पुलिस के हाथ नही लग पाई है।
आखिर यह वीडियो जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो संगठनों के कार्यकर्ताओं ने समाज में अश्लीलता का जहर घोलने वाले असामाजिक तत्वों पर नकेल कसने की सोशल मीडिया मुहिम छेड़ दी। जिसका परिणाम यह हुआ कि पुलिस ने होटल व्यवसायी नेपाली मूल की युवती की अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल करने के आरोप में तीन लोगों के विरुद्ध आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि तीनों आरोपियों का युवती के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था।और उनमें से किसी एक ने युवती की अश्लील वीडियो बनाकर कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दी। जिससे क्षेत्र में हडकंप मच गया। काफी फजीहत झेलने के बाद पीड़ित युवती के परिजनों ने थाने में तहरीर दी।पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।अश्लील वीडियो बनाये जाने के पीछे क्या मकसद था यह तो जांच के बाद ही पता चल पायेगा लेकिन कुछ असामाजिक लोगों की वजह से  क्षेत्र की जो बदनामी हो रही उससे क्षेत्र मे सामाजिक सरोकारो वाले नागरिक चिंतित हैं।
चर्चा तो यह भी है कि दो- तीन अश्लील वीडियो और बनाई गई हैं जो चन्द लोगों के पास पहुँच भी गयी हैं लेकिन कार्रवाई के डर से या तो उन्हें  नष्ट कर दिया गया है या सुरक्षित रख लिया गया है।इससे
पूर्व भी एक युवक ने एक महिला नेत्री की अश्लील वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल की थी।जो क्षेत्र में लम्बे समय तक चर्चा व चिंता का विषय बना रहा।

Add Comment

Click here to post a comment

Your email address will not be published.

Parvatjan Android App

Get Email: Subscribe Parvatjan

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: