एक्सक्लूसिव

भगत सिंह कोश्यारी का कुर्सी प्रेम, नहीं छूट रहा सांसदी का मोह

इसे रुतबा कहें या फिर भूल कि जब कोई सांसद अपने कार्यकाल खत्म कर चुका हो, उसके बाद भी उनके आवास पर सांसद वाला बोर्ड टंगा हुआ है। हम बात कर रहे हैं पूर्व सांसद भगत सिंह कोश्यारी की।
सर्वविदित है कि १७वीं लोकसभा चुनाव में नैनीताल सीट से अजय भट्ट सांसद बनकर संसद पहुंच चुके हैं, लेकिन डिफेंस कालोनी देहरादून स्थित नैनीताल के पूर्व सांसद भगत सिंह कोश्यारी के आवास में लगा यह शाइन बोर्ड बयां कर रहा है कि अभी भी भगत सिंह कोश्यारी सांसद हैं। हालांकि सीट का नाम न होने से लोग बोर्ड देखकर उत्सुक हो रहे हैं कि कोश्यारी वर्तमान में आखिर कहां से सांसद होंगे!
आमतौर पर विधायक या सांसद अपने कार्यालय या आवास में लगाया गया बोर्ड भी कार्यकाल खत्म होने के साथ ही हटा देते हैं, लेकिन यहां इसके ठीक उलट है। यहां लगा बोर्ड आम जन को वाकई भ्रमित कर रहा है। आम जन तो इस बोर्ड को देखकर यही सोच रहे हैं कि नैनीताल के सांसद भगत सिंह कोश्यारी हैं। भले ही उन्हें इस बार लोकसभा का टिकट ही नहीं दिया गया। हालांकि जानकार लोग कोश्यारी को वर्तमान में नैनीताल का सांसद बताते हुए खूब चटकारे ले रहे हैं। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि २१ मई २०१९ को लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद से आज करीब एक माह होने को है, लेकिन फिर भी कोश्यारी के आवास पर सांसद वाला बोर्ड लगा होना दर्शाता है कि कोश्यारी का कुर्सी प्रेम उनसे अभी भी छूटे नहीं छूट रहा।

इस बात पर चर्चा इसलिए भी रोचक बन जाती है, क्योंकि यह आवास विधानसभा से चंद कदम की दूरी पर स्थित है और यहां से रोजाना तमाम मंत्री, विधायक व नौकरशाह गुजरते हैं। इस आवास के सामने कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल और हरक सिंह रावत का भी आवास है।
बहरहाल, अब यह देखना दिलचस्प होगा कि सांसद वाला बोर्ड भगत सिंह कोश्यारी के इस आवास का कब तक रुतबा और शोभा बढ़ाता रहेगा!

Our Youtube Channel

%d bloggers like this: