राजनीति

काफल और मैंगो पार्टी के बाद गुड़ की चाय पिलाएंगे हरदा

राजनीति में अपने आपको कैसे लाइम लाइट में रखा जाता है, यह कोई हरीश रावत से सीखे। कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और असम के प्रभारी हरीश रावत की देहरादून, हल्द्वानी व दिल्ली में काफल व मैंगो पार्टी के बाद अब ऊधमसिंहनगर में नींबूसन्नी के साथ पारंपरिक पर्वतीय व्यंजन, गुड़ वाली चाय और एक दर्जन तरह के नमक व चटनियों की पार्टी २३ दिसंबर शनिवार को लेक सिटी पैराडाइज निकट बस स्टेशन रुद्रपुर में रखी गई है। दोपहर 2 बजे शुरू होने वाली इस अनोखी टी पार्टी के लिए हरीश रावत समर्थकों ने नैनीताल लोकसभा के मतदाताओं पर फोकस किया हुआ है। कोशिश यह है कि २०१९ के लोकसभा चुनाव में नैनीताल लोकसभा से कांग्रेस के सिंबल पर चुनाव लडऩे से पहले इसी प्रकार की आधा दर्जन पार्टियां आयोजित की जाएंगी।


इससे पहले हरीश रावत द्वारा देहरादून में दी गई मैंगो पार्टी तब सुर्खियों में आ गई थी, जब उसमें शामिल होने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत स्वयं हाजिर हो गए थे। उस दिन अजय भट्ट ने हरीश रावत की मैंगो पार्टी का जमकर मजाक उड़ाया था, किंतु त्रिवेंद्र रावत द्वारा हरीश रावत की मैंगो पार्टी में शामिल होने के बाद हरीश रावत की तारीफ से अजय भट्ट भड़क गए थे।
अब ऊधमसिंहनगर में होने वाली इस नई पार्टी में खास बात यह है कि अजय भट्ट भी भारतीय जनता पार्टी की ओर से नैनीताल लोकसभा सीट से टिकट के जुगाड़ में हैं। देखना यह है कि इस बार हरीश रावत की गुड़ वाली चाय की मिठास कितने लोगों को इक_ा करती है और कैसे विपक्षियों का मुंह करती है।

%d bloggers like this: